प्रोडक्टिविटी बढ़ाने के लिए काम में ले गैजेट्स।। Use Gadgets to Increase Productivity

गैजट्स से इस प्रकार बढ़ायें प्रोडक्टिविटी

आज हम मानव इतिहास के सर्वाधिक सुगम और सफल युग में जी रहे है। आज हमारे पास प्रत्येक चीज के लिए गैजेट्स उपलब्ध है जिनकी सहायता से हम अपनी लाइफस्टाइल को Productive बना सकते है।

वैज्ञानिक क्रांति की वजह से हमेशा नये-नये गैजेट आ रहे है जो हमारे डिजिटल अनुभव को और बेहतर बना रहे है। 

वो दिन चले गये जब सारा काम हाथ से किया जाता था, अब वक्त है Digitalization यानि कि तकनीक के साथ आगे बढ़ने का।

Productivity
Gadgets से इस प्रकार बढ़ायें प्रोडक्टिविटी

आज की इस पोस्ट में कुछ ऐसे गैजेट्स के बारे में बात की जायेगी जो हमारे दैनिक जीवन को डिजिटल बना देंगे। दैनिक जीवन में डिजिटलीकरण के पीछे हमारी व्यस्त लाइफस्टाइल है जो हमें Digital products का उपयोग बढ़ाने के लिए प्रेरित करती है।

Let's start...


1. वायरलैस हेडफोन (Wireless Headphone) -

अगर आप भी एक ऐसे पेशे में है जहाँ आपको सारे दिन फोन कॉल्स attend करने पङते है तो यह गैजेट आपके लिए है। इनमें वायरलैस कनेक्टिविटी होने के कारण इनसे आराम से घूमते हुए और कुछ भी काम करते हुए बात कर सकते है। इससे ना तो गर्दन में दर्द होगा और ना ही हाथ थकेंगे।

   इसके अलावा अगर आप वायर्ड हेडफोन/इयरफोन से म्यूजिक सुन कर बोर हो चुके है तो भी आप इनका उपयोग म्यूजिक सुनने के लिए कर सकते है।


2. वर्चुअल असिस्टेंट ( Virtual Assistant) - 

Amazon Alexa या Google Home जैसे स्मार्ट स्पीकर वर्चुअल असिस्टेंट की श्रेणी में आते हैं जो यूजर्स के लिए कई फंक्शंस (functions) परफॉर्म करते है। इन स्पीकर्स की सहायता से हम अपना काफी वक्त बचा सकते है। ये स्पीकर्स हमारे लिए अलार्म बजाना, टू-डू लिस्ट बनाना, रियल टाइम इंफॉर्मेशन प्रोवाइड करना जैसे कई काम कर सकते है। इससे हमें हमारे कुछ महत्वपूर्ण कामों को याद रखने की जरूरत नहीं होगी। 

  तकनीकी विकास के साथ वर्चुअल असिस्टेंट इंटेलिजेंट होते जा रहे है।


3. फिटनेस वॉचेज (Fitness watches) -

अगर आप अपनी व्यस्त लाइफस्टाइल और बिजनेस के कारण अपनी सेहत का ख्याल नहीं रख पा रहे है तो यह गैजेट आपके लिए है। एप्पल और शाओमी जैसे कई ब्रांड फिटनेस वॉचेस ला रहे है जो फिजिकल एक्टिविटी, कैलोरी बर्न और दिल की धङकन आदि को मॉनिटर करते है। इनसे मिले परिणाम के आधार पर हम हमारी सेहत से updated रहते है।



इनके अलावा भी बहुत से ऐसे प्रोडक्ट हैं जिनकी उपयोग से हम हमारी लाइफ को और सुगम बना सकते है जैसे कि Smart pen, Smart screen, smart bages, smart goggles, desk mount arms, smart toothbrushes, smart shoes, smart bed etc.


अगर आपको इस पोस्ट से संबंधित कोई भी सवाल है तो comment box में जरूर पूछें।





Mobile addiction से कैसे बचें।। How to avoid mobile addiction।।


Mobile addiction से कैसे बचें।।


Hello everyone, स्वागत है आप सबका।।


आज का मॉडर्न युग स्मार्टफोन युग है। इंटरनेट की बढ़ती सुविधाओं के चलते आज स्मार्टफोन हर जेब का हिस्सा बन चुका है। छोटों से लेकर बड़ों तक सबके हाथ में मोबाइल ही नजर आता है। कोई गेम खेल रहा है, कोई सोशल नेटवर्किंग साइट्स देख रहा है, कोई YouTube वीडियो देख रहा है और कोई कुछ अन्य गतिविधि(Activity) कर रहा है।


बढ़ती सुविधाओं और घटती सामाजिकता के चलते आज स्मार्टफोन हमारे लिए एक खतरा भी बन चुका है। इस खतरे का नाम है Mobile Addiction यानि कि मोबाइल के प्रति विशेष आकर्षण।।


लोगों का मोबाइल के प्रति बढ़ता आकर्षण आज हमारे समाज में स्पष्ट तौर पर देखा जा सकता है जो कि हमारी सामाजिकता और रिश्तों पर कितना असर डाल रहा है।

आज की इस पोस्ट में मैं बताऊंगा कि किस प्रकार हम मोबाइल एडिक्शन यानि कि मोबाइल के आकर्षण से बचें और अपने लक्ष्य या उद्देश्यों को पूरा करें।

Mobile addiction
How to avoid mobile addiction।। mobile addiction से कैसे बचें।।


ये रही कुछ टिप्स जिनसे हम इस Addiction से बच सकते है...


◆ Turn Off Notifications -  उन सभी एप्स(Apps) की नोटिफिकेशन(Notification) बंद कर दें जो आपको फालतू में disturb करती है जैसे कि अगर आपके फोन में कोई न्यूज़ ऐप(News App) है तो वह हर समय नोटिफिकेशन भेजता रहता है और आप उसे देखते रहते हो। बार-बार देखने से आपका समय ही बर्बाद होता है और कुछ नहीं।

Turn off disturbing apps notifications

   साथ ही अगर आप कई Whatsapp Groups में जुड़े हुए है तो भी आपको बहुत सारे messages आते रहते है और आप उन्हें देखने में व्यस्त हो जाते है। अत: फोन में अनावश्यक Groups को न रखें जिससे आप distract हो।



◆ Don't keep distracting Apps on Home Screen - वो सारे एप्स जो आपका ध्यान भंग करते हैं उन्हें अपनेेे स्मार्टफोन की होम स्क्रीन पर नहीं रखें अन्यथा आप Lock खोलते ही उन एप्स को देखने लग जायेंगे। अत: फोन की Home Screen पर  अति आवश्यक ऐप्स ही रखें जैसे कि Dialer, contact, messaging, camera, calculator etc.



keep difficult Lock - यह काम आपको थोड़ा अलग लग सकता है परंतु यह 100% कारगर है। आप अपने फोन में सरल लॉक पैटर्न या पिन रखने की जगह पासवर्ड-पिन को संयुक्त रुप सेे रखें और उन्हें कम से कम 10 digit का रखें ताकि आप आसानी से फोन को Unlock न कर पायें और कहीं भी राह चलते या सङक पर फोन न चला पायेंं🙂🙂।



Use inspirational and motivational wallpapers - फोन की होम स्क्रीन और लॉक स्क्रीन पर मोटिवेशनल और प्रेरित करनेे वाले वॉलपेपर रखें जिनसे आपको मोटिवेशन मिले और फोन में समय बर्बाद करने की बजाय कुछ नया कर सकें।




◆ Use Aeroplane/flight mode - जब आपका फोन चार्ज पर हो या आप ड्राइविंग कर हो तो फोन को aeroplane/flight mode पर रखें।



◆ Try something other activities - हमेशा फोन में खोने रहने की बजाय कुछ अन्य गतिविधियाँँ भी करें जैसे कि खेलना, डाँँस करना, लिखना इत्यादि। इससे आपके कौशल का विकास होगा और आप फोन से भी दूर रहेंगे।



◆ Ask Yourself - खुद से पूछें कि फोन का उपयोग करना आपके लिए कितना सही है। साथ ही यह भी जानें कि आप फोन का ज्यादातर उपयोग किसलिए करते है। अगर आप फोन का उपयोग कुछ नया सीखने के लिए कर रहे है तो अच्छी बात है अन्यथा अपनी आदतों को जरूर सुधारेें।


उम्मीद है आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी। अगर हाँ तो इसे अपने दोस्तों/परिवारजनों के साथ शेयर जरूर करें।


-----     -----
Kaisi lagi aapko yeh post, comment karke jarur bataye...
                                              -----    ------


Full form of some technical words।। कुछ तकनीकी शब्दों की फुल फॉर्म



Full form of some technical words


Hello everyone, स्वागत है आप सबका।।

Technology के बढ़ने से लगातार तकनीकी शब्दों का भंडार बढ़ता जा रहा है। इन शब्दों को सरलता से व्यक्त करने तथा समझने के लिए इनका संक्षिप्त रूप काम में लिया जाता है।


हम संक्षिप्त शब्दों का बहुत उपयोग करते है लेकिन हमें उनकी फुल फॉर्म का ध्यान नहीं होता है। आज मैं तकनीकी दुनिया(Technology world) से जुड़े कुछ संक्षिप्त शब्दों के फुल फॉर्म के बारे में बताऊंगा जिनका हम दैनिक जीवन में उपयोग करते रहते है।

Full forms of technical words

...

HTML - Hypertext Markup Language

Http - Hypertext Transfer Protocol

Https - Hypertext Transfer Protocol Secure

WWW - World Wide Web

URL - Uniform Resource Locator

WiFi - Wireless Fidelity

WLAN - Wireless Local Area Network

APN - Access Point Name

VPN - Virtual Private Network

USB - Universal Serial Bus

MMS - Multimedia Messaging Service

CPU - Central Processing Unit

RAM - Random Access Memory

ROM - Random Only Memory

EVM - Electronic Voting Machine

QR Code - Quick Response Code

PIN - Personal Identification Number

IT - Information Technology

IP - Internet Protocol

DVD - Digital Video Disk

LED - Light Emiting Diode

LCD - Light Crystal Display

...

इस सूची को और भी Update किया जायेगा।।

● Online पैसा कैसे कमायें।। How to earn money online ...


उम्मीद है आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी।

 इसी प्रकार की Tech & Study संबंधित जानकारियों के लिए जुड़े रहें हमारे साथ।।


----       -----
Kaisi lagi aapko post, comment karke jarur bataye...
                                           -----    -----


फोन पर आने वाले Ads (विज्ञापनों) को कैसे रोकें/कम करें।। How to stop/decrease the ads coming on the phone




फोन पर आने वाले विज्ञापनों को कैसे कम करें।

स्मार्टफोन की बढती दुनिया आज करोड़ों लोगों के लिए रोजगार का जरिया बन रही है और इसी के परिणामस्वरूप विज्ञापनों की दुनिया में भारी बढोतरी हो रही है।

जब हम फोन में Data Network अॉन(ON) होने पर कुछ भी देखते है तो हमें Ads भी देखने पङते है और इन्हीं विज्ञापनों(Ads) की सहायता से creators की Earning होती है और कम्पनियां अपने प्रॉडक्ट्स की मार्केटिंग/प्रचार
करती है।

Google और Facebook हमारी Activities पर ध्यान देती है और हमारी activities के अनुसार हमें विज्ञापन दिखाती है। Google इन जानकारियों को थर्ड पार्टी एप्स को प्रदान करती है या इन जानकारियों के जरिये उन एप्स को विज्ञापन प्रदान करती है।

अब आप सोच रहे होंगे कि कम्पनियां हमारे साथ ऐसा क्यों करती है तो इसका जवाब सीधा जवाब है कि ये कम्पनियां हमें अधिकतर जानकारियां free of cost यानि निशुल्क प्रदान करती है और Ads ही इनकी कमाई का प्रमुख साधन है।

Decrease advertisement
How to decrease the ads coming on the phone

आज मैं आपको ये बताउंगा कि हम किस प्रकार इन Ads को कम कर सकते है।

For Google -

सबसे पहले आप अपने फोन के ब्राउज़र को खोलें और सर्च बार में 'my activity' टाइप करें। यहां सबसे ऊपर में दिख रही विंडो पर टैप करें जिससे एक नया पेज ओपन होगा।

Google advertisement decrease

इसमें left side में ऊपर की ओर तीन डॉट पर क्लिक करें। यहां आपको गतिविधि नियंत्रण पर टैप करना है जिससे एक नया पेज ओपन होगा।
इस पेज को स्क्रॉल करते नीचे आएं। पेज के अंत में 'विज्ञापन' पर टैप करें। न्यू पेज खोलते ही यहां पर दिये पहले अॉप्शन को डिसेबल कर दें।

इस सेटिंग को करने के बाद आपको विज्ञापन तो दिखेंगे लेकिन वो आपकी सर्च की गई कुकीज पर आधारित नहीं होगें।

 

For Facebook -

          Facebook ऐप को ओपन करने के बाद दाएं तरफ दी गई तीन लाइनों पर क्लिक करें। उसके बाद सेटिंग ऑप्शन पर क्लििक करें।


अब नये खुले पेज को नीचे की तरफ स्क्रॉल करें जिससे वहां आपको 'Ad preferences' लिखा दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें।

यहां आपको अपनी जरूरतों के अनुसार दिए गए ऑप्शन को डिसेबल कर देना है जिससे Facebook आपकी निजी एक्टिविटीज के अनुसार आपको ऐड नहीं दिखाएगा।




----   -----
Kaisi lgi aapko yeh post, comment karke jrur btaye
                                       ------       -------